Featured Posts

[Blogging][feat1]

क्या आप जानते है? ' जौ ' खाने के ये 5 गुणाकारी लाभ ? हिंदी में जाने!


क्या आप जानते है? ' जौ ' खाने के ये 5 गुणाकारी लाभ ?

5 benefits of jou
5 benefits of jou

दोस्तों वैसे अनाज एक ऐसी चीज है जो अलग  - अलग काम में उपयोग में लिया जाता है और इनके गुण भी अलग-अलग है । आज हम ऐसे ही एक अनाज जौ खाने  के 5 गुणाकारी लाभ के बारे में बात करेंगे तो दोस्तों आइये जानते है-

जौ ' खाने से होने वाले  5 गुणाकारी लाभ -


पृथ्वी पर सबसे पुराने अनाजों में से एक है ' जौ '। इसका प्रयोग धार्मिक कामों के लिए किया जाता है. अक्सर आपने किसी पूजा स्थल या हवन की सामग्री या नवरात्रि में कलश स्थापना में इसका उपयोग होते देखा होगा। इसकी मुख्य पैदावार रूस, यूक्रेन, अमरीका, जर्मनी, कनाडा और भारत में होती है. जौ ऐसा अनाज है जिसे खाने से हमारे शरीर को कई पोषक तत्वतो मिलते ही हैं साथ ही ये हमें कई बीमारियों से भी बचाता है। जौ, गेंहू की ही जाति का एक अनाज है।

लेकिन ये गेंहू से हल्का और थोड़ा मोटा होता है. जौ में लेक्टिक एसिड, सैलिसिलिक एसिड, फास्फोरिक एसिड, पोटेशियम और कैल्शियम उपलब्ध होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस अनाज के कई और फायदे हैं ? अगर नहीं तो आज हम इसी बारे में आपको बताने जा रहे हैं….की जौ खाने 5 गुणाकारी लाभ कोनसे होते है ।

1. गर्भपात :

जिस महिला का गर्भपात हो जाता है उसके लिए जौ अमृत का काम करता है। इसे खाने से गर्भपात में हुई कमजोरी दूर की जा सकती है। जौ के आटे को घी और ड्राई फ्रूट के साथ मिलाकर लड्डू बनाया जाता है। इसके अलावा जौ का छना हुआ आटा, तिल और शक्कर को शहद के साथ मिलाकर खाने से भी गर्भपात रुकता है।

2. पथरी :

खराब और मिलावट वाला खाना खाने से लोगों के पेट में पथरी की समस्या हो जाती है। इस बीमारी से पीड़ित लोग जौ को पानी में उबालकर इसे ठण्डा करने के बाद रोज 1 ग्लास पिएं। ऐसा रोज करने से पेट की पथरी गल जाती है. इसके अलावा ऐसे लोग जौ की रोटी, धाणी और जौ का सत्तू भी ले सकते हैं।

3. डायबिटीज :

डायबिटीज को धीमी मौत कहना गलत नहीं होगा क्योंकि ये एक ऐसी बीमारी है जो धीरे-धीरे लोगो को गला देती है। ये बीमारी लोगों की लाइफस्टाइल पर भी निर्भर करती है। इसके लिए कोई एलोपेथिक दवा काम नहीं करती। इसलिए इस बीमारी से छुटकारे के लिए हेल्दी डाइट लेना चाहिए साथ ही रोगी जौ के आटे की रोटी और सत्तू बनाकर खा सकते हैं। जौ के आटे में चने का आटा मिलाकर भी खाया जा सकता है।

4. मोटापा :

दुनिया में करीब 95 प्रतिशत लोग मोटापे की समस्या से परेशान रहते हैं। जौ के सत्तू और त्रिफले के काढ़े में शहद मिलाकर पीने से मोटापा समाप्त हो जाता है। इसके अलावा जो व्यक्ति कमजोर हैं वे जौ को दूध के साथ खीर बना कर खाने से मोटे हो जाते हैं।

5. रंग निखारना :

जौ सिर्फ सिर्फ अंदर से ही नही बल्कि बाहरी रूप को भी निखारने में मदद करता है। ये रंग को निखारने के लिए बहुत लाभकारी होता है। जौ का आटा, पिसी हुई हल्दी और सरसोंके तेल को पानी में मिलाकर लेप बना लें। रोजाना शरीर में इसका लेप करके गर्म पानी से नहाने से रंग निखरता है।

दोस्तों  आज हमने जौ ' खाने के होने वाले 5 गुणाकारी लाभ के बारे में जाना । उम्मीद करता हु की आपको ये पोस्ट पसंद आया होगा अगर कुछ समझ में नहीं आये या कुछ पूछना हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करे।
क्या आप जानते है? ' जौ ' खाने के ये 5 गुणाकारी लाभ ? हिंदी में जाने! क्या आप जानते है? ' जौ ' खाने के ये 5 गुणाकारी लाभ ? हिंदी में जाने! Reviewed by Mehar Studios on 6:38 PM Rating: 5

जब आमिर के भांजे इमरान से हो गई juhi chawla की सगाई!

जब आमिर के भांजे इमरान से हो गई juhi chawla की सगाई!


Bollywood की Beautiful Actress juhi chawla ने 'कयामत से कयामत तक' 'बोल राधा बोल' 'प्रतिबन्ध' 'राजू बन गया जेंटलमैन' 'हम हैं राही प्यार के' ' डर' जैसे बेहतरीन Movies भी दी हैं.  juhi chawla age 13 नवंबर 1967 Panjab में जन्मीं juhi chawla की मुस्कुराहट हमेशा Fence को पसंद आई है. उनकी प्रोफेशनल लाइफ एक खुली किताब की तरह है, लेकिन उनकी Personal Life हमेशा सबसे छ‍िपी रही है. उनके Birthday के खास मौके पर जानें ह‍िंदी स‍िनेमा की द‍िलकश अदाकारा की ज‍िंदगी के अनजाने किस्से|
Juhi Chawla Birthday photo
Juhi


juhi chawla के पिता एक पंजाबी और मां एक गुजराती बोलने वाली महिला थी. पूजनाब में स्कूल की पढ़ाई के बाद जूही का पूरा परिवार मुंबई शिफ्ट हो गया था. मुंबई में juhi chawla ने Miss India के Compitition में भाग लिया और साल 1984 की 'Miss India' बन गईं. 

juhi chawla ने 1986 की फिल्म 'सल्तनत' में 'जरीना' के किरदार से बॉलीवुड में डेब्यू किया, हालांकि फिल्म Box Office पर फ्लॉप रही. फिर साउथ जाकर 1987 में मशहूर Director 'रविचंद्रन' की फिल्म 'प्रेमलोका' में juhi chawla ने काम किया जो उन दिनों Blockbuster साबित हुई|


Juhi Chawla  का करियर


साल 1988 में juhi chawla ने करियर की पहली हिट हिंदी फिल्म 'कयामत से कयामत तक' में काम किया जिसमें उनके साथ अभिनेता Aamir khan ने काम किया. यह फिल्म कमर्शियल तौर पर हिट रही. इस फिल्म के लिए juhi chawla को 'बेस्ट डेब्यूट फीमेल' का अवॉर्ड भी दिया गया |



Juhi Chawla hot photo
Juhi Chawla

कयामत से कयामत के सेट पर ही juhi chawla से आमिर खान के भांजे एक्टर इमरान खान ने सगाई भी कर ली थी. दरअसल, शूट‍िंग के दौरान इमरान, मामा आमिर खान के साथ सेट पर जाते थे. इमरान juhi chawla के बड़े फैन थे. इमरान ने फिर एक बार सेट पर juhi chawla को प्रपोज कर दिया और उन्हें रिंग पहना दी. juhi chawla ने भी छोटे इमरान की रिंग एक्सेप्ट कर ली. juhi chawla ने इस किस्से का खुलासा बीते द‍िनों एक इंटरव्यू में किया था. उन्होंने ये भी बताया कि उस वक्त इमरान की उम्र महज 4 साल थी |

फिल्मों के साथ साथ juhi chawla ने टीवी पर 'झलक दिखला जा' के सीजन 3 को जज भी किया था और शाहरुख खान के साथ मिलकर फिल्म प्रोडक्शन में भी कदम रखकर 'फिर दिल है हिंदुस्तानी, अशोका और चलते चलते' फिल्में प्रोड्यूस भी की थी.

साल 1998 में juhi chawla ने मशहूर उद्योगपति 'जय मेहता' से विवाह रचाया juhi chawla husband और उन्हें एक बेटी 'jhanvi mehta' और बेटा' अर्जुन' है.  
जब आमिर के भांजे इमरान से हो गई juhi chawla की सगाई! जब आमिर के भांजे इमरान से हो गई juhi chawla की सगाई! Reviewed by Mehar Studios on 3:03 PM Rating: 5

Katrina Kaif Biography (कटरीना कैफ की बायोग्राफी हिंदी में) - Techsame

Katrina Kaif Biography (कटरीना कैफ की बायोग्राफी हिंदी में) 


Katrina Kaif का जन्म 16 जुलाई 1984 को हांगकांग में हुआ ये  एक भारतीय अभिनेत्री है।

Katrina Kaif's Biography
Katrina Kaif's Biography

Katrina Kaif का जन्म हांगकांग में एक भारतीय कश्मीरी पिता, मोहम्मद कैफ और अंग्रेजी मां सुजैन तुर्कोट के यहाँ पर  हुआ था। जब वह बहुत छोटी थी तो उसके माता-पिता तलाकशुदा हो गए।



उसके सात भाई बहन हैं। हांगकांग से, वे चीन और फिर जापान चले गए। फिर जापान से फ्रांस तक जब वह 8 वर्ष की थी और फिर स्विट्जरलैंड, क्राको, बर्लिन, बेल्जियम और कई अन्य पूर्वी यूरोपीय देशों में चली गयी जहां वह और उसका परिवार  कुछ महीनों तक रहता था। फिर वे अपनी मां के घर देश, इंग्लैंड में "हवाई "में चले गए। आखिरकार वह मुंबई आने से पहले तीन साल तक लंदन में रही।

वह तेलुगु और मलयालम फिल्मों में भी दिखाई दी। वर्ष 2008, 2009 और 2010 में उन्हें Eastern Eye द्वारा the sexiest Asian woman in the world चुना गया था। ब्रिटिश नागरिक होने के नाते, वह रोजगार वीजा पर भारत में काम करती है।
Katrina Kaif's Biography 2019
Katrina kaif



Katrina Kaif ने चौदह वर्ष की उम्र में अपने modelling career की शुरुआत की। उसने एक jewellery campaign के साथ अपना पहला काम शुरू किया। उसके बाद उन्होंने Models 1 Agency  के साथ अनुबंध के तहत लंदन में modelling जारी रखा और La Senza and Arcadius जैसे घरों के लिए अभियान चलाए, और यहां तक ​​कि London Fashion Week में भी भाग लिया|
Katrina Kaif's Biography hot
Katrina Kaif


उनकी पहली फिल्म वर्ष 2003 में Boom थी। वह मुंबई चली गई और कई modelling assignments की पेशकश की गई। प्रारंभ में, सभी फिल्म निर्माता उसे लेने में संकोच कर रहे थे क्योंकि वह हिंदी नहीं बोल सकती थीं। लेकिन Kaif ने धीरे - धीरे हिंदी बोलना सिख लिया।



Katrina Kaif's Biography (कटरीना कैफ की बायोग्राफी )


Born name - Katrina kaif
Nick name - kat, Katy, Katz, and sunni
Age - 38
Profession - Actress and model
Nationality - British
Eye color - Brown
Hair color - Black
Home town - London united kingdom
Hobbies - dancing,gaming and travelling.
Affair with - Salman khan
Ex- boyfriend - Ranvir kapoor
Boyfriend name - salman khan

Katrina Kaif Biography (कटरीना कैफ की बायोग्राफी हिंदी में) - Techsame Katrina Kaif Biography (कटरीना कैफ की बायोग्राफी हिंदी में) - Techsame Reviewed by Mehar Studios on 3:48 PM Rating: 5

क्रिसमस क्यों मनाते है l Full Information In Hindi - Techsame

क्रिसमस क्यों मनाते है l Full Information In Hindi



नमस्कार दोस्तों  आज हम भारतीय त्यौहार क्रिसमस डे के बारे में जानेंगे की क्रिसमस क्यों मनाते है l बात करेंगे तो आइये जानते है -
क्रिसमस क्यों मनाते है l Christmas Full Information In Hindi
क्रिसमस

भारत एक ऐसा देश है जहां पर लगभग सभी धर्मों के लोग रहते हैं और सभी त्योहार बड़ी ही खुशी से मनाते हैं. भारत देश में ईसाइयों का त्योहार क्रिसमस डे भी बड़ी ही खुशी से मनाया जाता है. यह त्यौहार 25 दिसंबर को पूरी दुनिया क्रिसमस डे के तौर पर मनाती है. 24 दिसंबर की शाम से इस त्योहार का जश्न शुरू हो जाता है।



दोस्तों क्रिसमस का त्योहार ईसाइयों का सबसे बड़ा त्यौहार है. ईसाइयों के लिए क्रिसमस का महत्व बहुत ज्यादा है. इस दिन दुनिया भर के इसाई लोग बड़ी ही धूमधाम से इस त्यौहार को मनाते है।


क्रिसमस डे की कहानी क्या है ? क्रिसमस का त्योहार कब से मनाया जाता है ? दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको अच्छे से बताएंगे कि क्रिसमस का त्योहार क्यों बनाया जाता है ?

क्रिसमस क्यों मनाते है l  Full Information 


कुछ लोगों का मानना है कि प्रभु जीसस का जन्म 25 दिसंबर को नहीं हुआ था लेकिन ज्यादातर लोग यही मानते हैं कि प्रभु जीसस का जन्म 25 दिसंबर को हुआ था यही कारण है कि हम क्रिसमस मनाते हैं और इन्हीं की याद में क्रिसमस डे बनाया जाता है.

दोस्तों हर त्यौहार के पीछे एक कहानी होती है जैसे की हम दीपावली मनाते हैं तो उसके पीछे श्रीराम की कहानी है होली मनाते हैं तो उसके पीछे प्रहलाद की कहानी है इसी तरह से क्रिसमस के त्योहार के पीछे भी एक कहानी है।

क्रिसमस की कहानी आज से करीब 2000 साल पहले की है. बाइबल के अनुसार उस समय रोम का शासन होता था और लोगों पर काफी अत्याचार किए जाते थे. लोगों की पीड़ा को कम करने के लिए तथा लोगों को रोम के शासन से बचाने के लिए प्रभु  ने अपने बच्चे जीसस को धरती पर भेजा था.
प्रभु ने जीसस के जन्म के लिए वहां की एक कुंवारी कन्या Merry को चुना और प्रभु ने Merry के पास एक देवदूत को भेजा।



देवदूत ने Merry के पास जाकर कहा कि तुम्हें प्रभु के पुत्र जीसस को जन्म देना है. देवदूत ने आगे बताया कि आपका यह बेटा बड़ा होकर राजा बनेगा तथालोगों पर हो रहे अत्याचारों को कम करेगा।प्रभु के द्वारा भेजी गई दूत गैब्रियल , जोसफ के पास गई और उन्होंने कहा कि आपको Merry नाम की एक लड़की से शादी करनी है जो प्रभु के बच्चे को जन्म देगी।

जिस दिन जीसस का जन्म होने वाला था उस समय Merry और जोसेफ बेथलेहम की ओर जा रहे थे. बेथलेहम में उस समय काफी भीड़ थी और रहने के लिए कहीं भी जगह नहीं थी. तब Merry और जोसफ उस रात एक अस्तबल (तबेले) में रात गुजारी. इसी रात जीसस का जन्म हुआ और इस दौरान आकाश में एक चमकता हुआ तारा दिखाई दिया जिससे लोगों को आभास हो गया कि उनके प्रभु ने धरती पर अवतार ले लिया है।

इस बात की भविष्यवाणी पहले ही हो चुकी थी कि जिस दिन आकाश में सबसे ज्यादा चमकता हुआ तारा दिखाई दे उसी दिन समझ लेना कि धरती पर तुम्हारे प्रभु ने जन्म ले लिया है. प्रभु के जन्म लेने से सभी लोग बहुत खुश हो गए थे. ईसा मसीह ने अब लोगों के बीच में रहकर उनकी सेवा करनी शुरू कर दी और उनके दुख दर्द को दूर करने का प्रयास करने लग गए।

ईसा मसीह ने हमेशा लोगोंको भाईचारे, मानवता और प्रेम से रहने का संदेश दिया. वह हमेशा कहते थे किजो तुम्हारा बुरा करता है उसकी भी तुम भलाई करो और अपने शत्रुओं से  भी प्रेम करो.




क्रिसमस का त्योहारकई चीजों के लिए मशहूर है. जैसे कि क्रिसमस ट्री, गिफ्ट और सांता क्लॉस.  इस दिन सांता क्लॉज बच्चों को गिफ्ट देता है और बच्चों की हरसंभव इच्छा पूरी करने का प्रयास करता है. क्रिसमस के दिन लोग अपने घरों की व गिरजाघरों की साफ सफाई करते है. घर, दुकान और गिरजाघर को लोग रंगीन कागजों और फूलों से सुंदर बनाते हैं।

इस दिन क्रिसमस ट्री भी बनाया जाता है जिस पर रंग बिरंगे, बल्ब और खिलौने सजाए जाते हैं. इस दिन बच्चे बहुत खुश होते हैं क्योंकि उन्हें अच्छे-अच्छे गिफ्ट मिलते है.  इस दिन लोग एक दूसरे को क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनाएं देते हैं.

दोस्तों आपको हमारी ये पोस्ट " क्रिसमस क्यों मनाते है l  " कैसी लगी हमे कमेंट बॉक्स के जरिये जरुर बताये.
क्रिसमस क्यों मनाते है l Full Information In Hindi - Techsame क्रिसमस क्यों मनाते है l Full Information In Hindi - Techsame Reviewed by Mehar Studios on 2:41 PM Rating: 5
Powered by Blogger.