WWW क्या है || World Wide Web in hindi || World Wide Web क्या हैं || वर्ल्ड वाइड वेब क्या हैं || What is WWW.

www क्या है World Wide web in hindi
www क्या है

दोस्तो क्या आपको पता है कि www क्या है ( World Wide Web in Hindi) आज का पोस्ट इसी टॉपिक पर है। आज दुनिया मे सभी इंटरनेट का उपयोग करते है लेकिन उन्हें www का पता नही है की यह क्या है अक्सर आपने देखा होगा की जब हम इंटरनेट पर कुछ भी Search करते है तो एक Site open होती है जिसके आगे www लगा होता है जैसे www.technoganpat.in ये क्या होता है आज हम इसी के बारे मे जानेंगे। चलो जानते है कि World Wide Web क्या है।

वर्ल्ड वाइड वेब का परिचय (World Wide Web : Introduction)


Web का अर्थ होता है जाल  अत: www इंटरनेट पर बहुत से कंप्यूटरों का एक ऐसा जाल है जहां सूचनाओं का एक असीमित भंडार होता है। कुछ इंटरनेट के प्रयोक्ता www को ही  इंटरनेट समझते हैं जबकि यह तो Internet पर उपलब्ध विभिन्न सेवाओं में से एक है। इसमें सभी कंप्यूटरों की सूचनाओं को आपस में इस प्रकार जोड़ दिया जाता है कि हम सूचना की तलाश में स्वत: ही एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर पर चले जाते हैं। यहाँ जिन कंप्यूटरों में सूचना होती है उन्हें वेब सर्वर (web server) तथा जिस रूप में सूचना होती है उससे वेब पेज (webpage)कहते हैं । इन वेब पेजों को जिन विशेष प्रोग्रामो की सहायता से देखा जाता है उसे वेब ब्राउजर (web browser )कहते हैं । एक वेब पेज पर साधारण पाठ्य, आवाज, चलचित्र, चित्र तथा हाइपर पाठ्य अजी कुछ भी डाला जा सकता है । इनके अतिरिक्त एक वेब पेज पर किसी दूसरे वेब पेज का पता भी डाला जा सकता है, जिसे हाइपरलिंक (hyperlink) कहते हैं।


आरंभ के कई वर्षों तक इंटरनेट को सिर्फ संदेशों / सूचनाओं के आदान-प्रदान के माध्यम के रूप में प्रयोग किया जहां सूचनाओं के प्राप्तकर्ता सूचना के लिए उसके भेजने वाले पर निर्भर करता वाले पर निर्भर करता था। अर्थात जब सूचना भेजी जाएगी तब ही ही जाएगी तब ही सूचना मिलेगी। उस समय इंटरनेट पर ऐसी कोई व्यवस्था नहीं थी कि सूचनाओं को कहीं संग्रहित करके रखा जा सके ताकि प्राप्तकर्ता उसे अपनी सुविधा अनुसार प्राप्त कर सके। बाद में, इंटरनेट पर कुछ ऐसे कंप्यूटरों को शामिल किया गया जहां डाटा संचित करके रखा जा सकता है । यह कंप्यूटर सूचनाओं के भंडार हैं, एक दूसरे से संबंधित हैं तथा अपने प्रयोक्ताओ को मांग पर सूचना उपलब्ध करते हैं । इंटरनेट की इस सेवा को वर्ल्ड वाइड वेब (World Wide Web:www) कहते हैं । इसमें सभी सूचनाएं वेबपेज(Web Page) के रूप में व्यवस्थित होता है जिनका कि एक स्थाई पता होता है।

WWW Full Form In Hindi (www का पुरा नाम)


www full form (www की फुल फॉर्म) -World Wide Web यानी विश्व व्यापी वेब।  ये पूरे विश्व को सूचना के माध्यम से आपस मे जोड़ते है।

वर्ल्ड वाइड वेब का Birth (www का जन्म)


वर्ल्ड वाइड वेब का जन्म 1989 यानि WWW का प्रयोग सबसे पहले TIM BERNERS LEE ने 1989 में CERN प्रयोगशाला में किया | कई बार परीक्षा मे पूछा जाता है की किस संगठन में वर्ल्ड वाइड वेब का जन्म हुआ ? तो इसका जबाव CERN प्रयोगशाला हैं।

वर्ल्ड वाइड वेब की विशेषताए (Features of World Wide Web)


  • HyperText Information System
  • Dynamic, Interactive, Evolving
  • Distributed
  • Cross-Platform
  • Open Standards and Open Source
  • Web Browser: provides a single interface to many services


Hypertext Information System:- वेब पेज के डॉक्यूमेंट में कई  घटक होते है जिनमे टेक्स्ट, Graphics, Object, Sound,  ये सभी घटक आपस में एक दूसरे से जुड़े होते है । और इन घटकों को आपस में जोड़ने के लिए hypertext का उपयोग किया जाता है जिसे  Hypertext Information System कहते है।

Graphical Interface:- आजकल सभी वेबसाइट में Text के अलावा Video, Sound आदि का समावेश रहता है । Hyperlink सुविधा से Information को आसानी से देख सकते है या वेब पेज (Webpage) से जोड़ सकते है। एक Dynamic Website में Menu, Command Button आदि का प्रयोग किया जाता है, इससे कार्य करने में आसानी हो जाती है।

Cross Platform :– Cross Platform का अर्थ होता है की Web Page या Website किसी भी कंप्यूटर Hardware या Operating System पर कार्य कर सकता है| यह आजकल काफी चलन में है।

Distributed:- www में website एक दूसरे से जुड़े होते है । सभी वेबसाइट में अलग-अलग information होती है बहुत सी वेबसाइट ऐसी होती है जो दूसरे वेबसाइट से जुडी होती है| उपयोगकर्ता एक वेबसाइट खोलकर उससे दूसरे वेबसाइट से जुड सकता है इस कार्यप्रणाली को Distributed System कहा जाता है।  आजकल इसे Backlink भी कहते हैं।


वर्ल्ड वाइड वेब  का इतिहास ( History Of World wide web)


वर्ल्ड वाइड वेब  का इतिहास:- सन् 1989 में CERN (सर्न )के टेक एक्सपर्ट टिम बर्नर्स ली  ने www की खोज की यानि उन्हें ही  www (वर्ल्ड वाइड वेब ) का जनक कहा जाता है। मार्च 1989 मे CERN की टीम ने बर्नर्स ली से एक ऐसे सॉफ्टवेयर की मांग की जो अपने लेब के सभी Computer को आपस मे Connect कर सकें। बर्नर्स ली ने टीम का यह प्रपोजल स्वीकार कर लिया और फिर बाद मे उन्होंने University of Resources एक Connection Network से जुड़ गए यही था Internet का पहला Communication. बाद मे सन् 1993 मे टीम ने Internet की  Royalty Open Source रख दी फिर बाद मे आज के जमाने का दौर शुरू हुआ।  बाद मे इनमे काफी बदलाव किया गया।

सारांस:- आज का ये पोस्ट www क्या है ( World Wide Web in Hindi) से सम्बन्धित था इस पोस्ट मे हमने जाना की वर्ल्ड वाइड वेब क्या है इसका जन्म का और कहाँ हुआ इसकी विशेषता क्या क्या है। 

Tags:-
WWW क्या हैं  (what is www in Hindi), वर्ल्ड वाइड वेब का परिचय (World Wide Web : Introduction), वर्ल्ड वाइड वेब  का इतिहास ( History Of World wide web), WWW Full Form In Hindi (www का पुरा नाम), वर्ल्ड वाइड वेब का Birth, world wide web vs internet, advantages of world wide web, uses of world wide web, world wide web browser