Analog Computer In Hindi || 3 प्रकार के एनालॉग कंप्यूटर|| What Is Analog Computer In Hindi

Analog Computer In Hindi
एनालॉग कंप्यूटर का चित्र

Analog Computer In Hindi – पिछले पोस्ट में Hybrid कंप्यूटर के बारे में विस्तार से जाना. आज के पोस्ट में आप एनालॉग कंप्यूटर होता है (Analog Computer Kya Hai) जानेंगे. साथ ही एनालॉग कंप्यूटर का चित्र, एनालॉग कंप्यूटर के प्रकार और एनालॉग कंप्यूटर का इतिहास आदि के बारे में पढेंगे.

मैंने पिछले पोस्ट में Types Of Computer In Hindi में बताया. की कार्य के आधार पर कंप्यूटर को तीन भागो में बांटा गया है. जिनमे एक एनालॉग कंप्यूटर भी है. मैंने आपको Micro computer, Mini Computer, Mainframe Computer, Super Computer के बारे में विस्तार से बता दिया है. तो Computer course में आगे बढ़ने के लिए आज हम Analog Computer In Hindi यानि एनालॉग कंप्यूटर क्या होता है पढेंगे.

Analog Computer Kya Hai (एनालॉग कंप्यूटर क्या है)

एनालॉग कंप्यूटर को हम अनुरूप कंप्यूटर भी कह सकते है. analog का मतलब होता है ‘Continous Data’. एनालॉग कंप्यूटर वे होते है जिनके विभिन भौतिक राशियों यथा दाब, तापमान, लम्बाई आदि(गुणात्मक राशियों) जो सतत रूप से change होती रहती है. इन्हें Electronic Circuits की help से विधुत संकेतो में परिवर्तित किया जाता है.

इस प्रकार के कंप्यूटर किसी राशी का परिमाप परस्पर तुलना के आधार पर करते है. Analog Computer में Input Analog Signal को record ही नहीं करता है. और हमारे सामने output पेश कर देता है.

इस कंप्यूटर में कोई भी Memory नहीं होती है. यानि ये Computer हमरे पहले वाले Data को Store(Save) नहीं करता है. इस प्रकार के कंप्यूटर में जब भी input signal बदलता है तो Output भी बदलता रहेगा.

 

Types of Analog Computer In Hindi (एनालॉग कंप्यूटर के प्रकार)

वैसे तो एनालॉग कंप्यूटर  types of analog computer यानि एनालॉग कंप्यूटर 3 प्रकार के होते है. लेकिन वर्तमान इसके कई प्रकार है जो कुछ निम्न है.

  • Electronic Analog Computer
  • Mechanical Analog Computer
  • Slide Rules
  • Pneumatic Analog Computer
  • Hydraulic Analog Computer

 इलेक्ट्रोनिक एनालॉग कंप्यूटर (Electronic Analog Computer)

पहली बार इलेक्ट्रोनिक एनालॉग कंप्यूटर अमेरिका (USA) में बनाया गया. शुरुआत में इस कंप्यूटर का इस्तेमाल मिसाइलो, हवाई जहाज के Leyout और उडान सिम्युलेटर के रूप में किया गया था. Electronic Analog Computer में हजारो वेक्यूम ट्यूब लगे होते है. लेकिन कुछ समय के बाद इसके ट्रांजिस्टर को बदलना पड़ता है.

नए वाले Electronic Analog Computer in Hindi को इस तरह से बनाया गया है. कि इसके घटकों में Electronic signal के बजाय कई तरह के प्रतिरोधो और capacitors के माध्यम से बहने वाले विधुत signal का उपयोग किया जाता है. Signal का Voltage Graphic Display के रूप में निष्कर्ष निकलता है. इस प्रकार का analog computer कई तरह की कम्प्यूटिंग एवं रक्षा प्रोधोगिकी प्रणाली के कार्य करने में सक्षम होती है.

Mechanical Analog Computer

मैकेनिकल एनालॉग कंप्यूटर कंप्यूटर्स का प्राचीन इतिहास है. Antikythera Mechanism जो कि एक Ptolemaic Egypt  (मिस्र) का उत्पादक है. उसने आकाश में दिखाई देने वाली वस्तुओ की चाल को गियर्स की एक श्रंखला का उपयोग करके बनाया. Mechanical Analog Computer के उदहारण – कास्मिक इंजन, पास्कलीन, स्टेप्ड रेकनर आदि है.

Slide Rules In Hindi

स्लाइड रूल्स एनालॉग कंप्यूटर का सबसे सरल प्रकार है. Slide Rules कंप्यूटर गणितीय कार्यो के लिए अनुमानित परिणाम लेन में help करता है. इसमें उपयोगकर्ता hashed rod को एक दूसरी rod में चिन्हों के साथ लाइनअप करने के लिए Slide करते है. इस कंप्यूटर से पढने में help मिलती है. जो विभिन प्रकार के Hash marks की लाइन पर निर्भर करते है.

Pneumatic Analog Computer

इस प्रकार के कंप्यूटर उर्जा स्रोत के रूप में हवा का इस्तेमाल करते है. जो की सामान्य रूप से analog होती है. तथा Pneumatic Analog Computer in Hindi ज्यादातर Building के क्षेत्रो में इस्तेमाल किये जाते है.

Hydraulic Analog Computer

दुनिया का पहला Hydraulic Analog Computer Mihailo Petrovie Alas ने सन १८६३-१९४३ में बनाया एवं चलाया. उस समय इस प्रकार के कंप्यूटर का उद्देश्य अंतर समीकरणों का हल निकलना था. इस कंप्यूटर का इस्तेमाल स्थिर पानी के प्रवाह और दबाव का उपयोग समय के पारित होने को मापने के लिए करते है.

 

Also Read This

Router Kya Hota Hai?

Modem Kya Hota Hai?

Mouse Kya Hota Hai?

 

Example of Analog Computer (एनालॉग कंप्यूटर के उदाहरण)

एनालॉग कंप्यूटर के उदाहरण हमारी life में अनेको है. लेकिन कुछ के बारे में मैंने इस पोस्ट में बताया है.

  • थर्मामीटर
  • Speed Meter
  • Analogue Clock
  • Voltmeter
  • Flight Simulators
  • Telephone Line
  • Frequency of Signal
  • Resistance of Capacitor
  • ओडोमीटर एवं पेट्रोल पम्प पर लगा मीटर  

 

एनालॉग कंप्यूटर की विशेषताएं

  1. वैसे तो एनालॉग कंप्यूटर की कई विशेषताएं है. जो कि इस कंप्यूटर को बेहतरीन बनाती है. लेकिन कुछ महत्वपूर्ण निम्न है.
  2. Analog computer संख्याओ पर काम न करके कुछ दुसरे संकेतो जैसे तापमान, गति, विधुत प्रवाह आदि पर काम करते है.
  3. एनालॉग कंप्यूटर एक समय में सिर्फ एक ही निर्देश लेते है तथा उस निर्देशानुसार कार्य करने के पश्चात् ही दुसरा निर्देश लेते है.
  4. इन कंप्यूटर का इस्तेमाल करने के लिए प्रोग्रामन का ज्ञान होना जरुरी नहीं होता है.
  5. ये कंप्यूटर एनालॉग signal को input के रूप में अपनाते है. ये की प्रक्रति के निरंतर रूप में होते है. जैसे पृथ्वी हिलना, हवा चलना, कार की Speed आदि एनालॉग signal होता है.
  6. इस कंप्यूटर की Data Store की क्षमता कम होती है.
  7. एनालॉग कंप्यूटर बहुत ही सस्ते होते है.
  8. इसका परिणाम डिजिटल कंप्यूटर के मुकाबले सटीक नहीं होता है.
  9. Analog Computer को प्रत्येक ऑपरेशन के लिए अलग अलग डाटा की जरुरत पड़ती है.  

एनालॉग कंप्यूटर के उपयोग (Use of Analog Computer In  Hindi)

 वैसे एनालॉग कंप्यूटर की जरुरत तो हर क्षेत्र में पड़ती है. जिनको हम खुद देख रहे है. इस पोस्ट में इसके कुछ उपयोग के बारे में बताया गया है.

  • इस कंप्यूटर का इस्तेमाल वैज्ञानिक प्रयोगशाला में अधिक होता है.
  • पेट्रोल पम्प पर भी मीटर लगा होता है. वह analog computer ही होता है.
  • चिकित्सालय में थर्मामीटर के रूप में एनालॉग कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है.
  • इस कंप्यूटर का उपयोग तापमान, Speed जैसी एनालॉग मात्रा की गणना करने के लिए किया जाता है.
  • एनालॉग कंप्यूटर का उपयोग विधुत धारा को वोल्टमीटर के द्वारा मापने के लिए किया जाता है. 

निष्कर्ष 

दोस्तों आशा करता हूँ कि आज की ये पोस्ट Analog Computer In Hindi आपको अच्छी लगी. इस पोस्ट में मैंने आपको analog computer kya hai बताया है. अपने दोस्तों में इस पोस्ट को जरूर शेयर करे.